Maa Shayari In Hindi | माँ-शायरी | Mother Shayari |

By | November 13, 2018

Maa Shayari In Hindi,
माँ-शायरी,
Mother Shayari,
Maa Shayari 2 Lines,
Maa Shayari In Hindi Font,
Maa Shayari Faraz,
Maa Ki Yaad Me Shayari.


Maa shayari


* Maa Shayari In Hindi *

____________________

यूं ही नहीं गूंजती किल्कारीयां‬,
घर आँगन‬ के हर कोने में,
जान ‎हथेली‬ पर रखनी‪ पड़ती है,
‘माँ’ को ‘‪माँ‬’ होने में!!

____________________

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ!!
माँ से इस तरह लिपट जाऊँ कि बच्चा हो जाऊँ!

____________________

पहली मोहब्बत की बात,
भले ही करता हो जमाना,
मगर पहला प्यार तो,
माँ से शूरु होता है.

____________________

हर रिश्ते में मिलावट देखी!
कच्चे रंगों की सजावट देखी!
लेकिन सालो साल देखा है माँ को!
उसके चेहरे पर न थकावट देखी!
ना ममता में मिलावट देखी!!

____________________

करो दिलसे सजदा तो इबादत बनेगी!
मॉ बाप की सेवा अमानत बनेगी!
खुलेगा जब तुम्हारे गुनाहों का खाता!
तो मॉ बाप की सेवा जमानत बनेगी!

____________________

* Maa Shayari In Hindi *

हजारो गम हो फिर भी मै ख़ुशी से फूल जाता हूँ,
जब हस्ती है मेरी माँ मै हर गम भूल जाता हूँ.

____________________

अपनी जुबान की तेज़ी उस माँ पर मत चलाओ!
जिसने तुम्हे बोलना सिखाया!

____________________

कोई दुआ असर नहीं करती,
जब तक वो हमपर नजर नहीं करती,
हम उसकी खबर रखे न रखे,
वो कभी हमें बेखबर नहीं करती!

____________________

ख़ुदा ने ये सिफ़त दुनिया की हर औरत को बख्शी है,​
कि वो पागल भी हो जाए तो बेटे याद रहते है​​.

____________________

मैंने कल सब चाहतों की!
सब किताबें फाड़ दी!!
सिर्फ एक कागज़ पर!
लफ्ज-ए-माँ रहने दिया!!

____________________

किसी भी ​मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता!
​शायद अब घर से कोई माँ के पैर छूकर नहीं निकलता​!!

____________________

* Maa Shayari In Hindi *

रूह के रिश्तों की ये गहराइयाँ तो देखिये,
चोट लगती है हमें और चिल्लाती है माँ,
हम खुशियों में माँ को भले ही भूल जायें,
जब मुसीबत आ जाए तो याद आती है माँ.

____________________

ठोकर न मार मुझे पत्थर नहीं हूँ मैं!
हैरत से न देख मुझे मंज़र नहीं हूँ मैं!!
तेरी नज़रों में मेरी क़दर कुछ भी नहीं!
मगर मेरी माँ से पूछ उसके लिए क्या नहीं हूँ मैं!!

____________________

प्यार करना कोई तुम से सीखे,
दुलार करना कोई तुम से सीखे,
तुम हो ममता की मूरत,
दिल में बिठाई है हमने यही सूरत,
मेरे दिल का बस यही है कहना,
ओ माँ तुम बस ऐसी ही रहना!

____________________

दिन की रौशनी ख्वाबो को बनाने मे गुजर गयी,
रात की नींद बच्चे को सुलाने मे गुजर गयी,
जिस घर मे तेरे नाम की तख्ती भी नहीं है,
सारी उम्र उस घर को बनाने मे गुजर गयी.

____________________

माँ तो जन्नत का एक फूल है!
प्यार करना ही उसका उसूल है!
दुनिया की मोहब्बत फ़िज़ूल है!
माँ की हर दुआ कबूल है!
माँ को नाराज करना इन्सान तेरी भूल है!
माँ के क़दमों की मिटटी जन्नत की धूल है!!

____________________

बहुत बुरा हो फिर भी उसको बहुत भला कहती है!
अपना गंदा बच्चा भी माँ दूध का धुला कहती है!!

____________________

मांग लूँ यह दुआ कि फिर यही जहाँ मिले,
फिर वही गोद मिले फिर वही माँ मिले.

____________________

माँ तेरे दूध का हक मुझसे अदा क्या होगा!
तू नाराज है तो खुश मुझसे खुदा क्या होगा!

____________________

तेरे दामन में सितारे हैं तो होंगे ऐ फलक,
मुझको मेरी माँ की मैली ओढ़नी अच्छी लगी!!

____________________

आज लाखों रुपये बेकार हैं,
वो एक रुपये के सामने,
जो माँ स्कूल जाते वक्त देती थी.

____________________

दवा असर ना करे तो नजर उतारती है!
माँ है जनाब वो कहाँ हार मानती है!!

____________________

हजारो फूल चाहिए एक माला बनाने के लिए!
हजारों दीपक चाहिए एक आरती सजाने के लिए!
हजारों बून्द चाहिए समुद्र बनाने के लिए,
पर “माँ “अकेली ही काफी है!
बच्चो की जिन्दगी को स्वर्ग बनाने के लिए!

____________________

ये जो सख्त रस्तो पे भी आसान सफ़र लगता हे,
ये मुझ को माँ की दुआओ का असर लगता हे,
एक मुद्दत हुई मेरी मां नही सोई तबिश,
मेने एक बार कहा था के मुझे डर लगता हे.

____________________

माँ से रिश्ता कुछ ऐसा बनाया!
जिसको निगाहों में बिठाया जाए!
रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा की!
वो अगर उदास हो तो हमसे
भी मुस्कुराया न जाये!!

____________________

जिँदगी‬ की पहली ‪”Teacher‬” ‎माँ‬!
जिँदगी की पहली ‪”Friend‬” माँ!!
“‪Zindagi‬” भी माँ ‎क्योँकि‬!
“‎Zindagi‬” देने वाली भी माँ!!

____________________

“माँ” की एक दुआ जिन्दगी बना देगी,
खुद रोएगी मगर तुम्हे हँसा देगी,
कभी भुल के भी ना “माँ” को रूलाना,
एक छोटी सी गलती पुरी दुनिया हिला देगी.

____________________

आँख खोलू तो चेहरा मेरी माँ का हो!
आँख बंद हो तो सपना मेरी माँ का हो!!
मैं मर भी जाऊं तो भी कोई गम नहीं!
लेकिन कफ़न मिले तो दुपट्टा मेरी माँ का हो!!

____________________

ऐ मेरे मालिक
तूने गुल को गुलशन में जगह दी!
पानी को दरिया में जगह दी!
पंछियो को आसमान मे जगह दी!
तू उस शख्स को जन्नत में जगह देना!
जिसने मुझे “नौ” महीने पेट में जगह दी!!

____________________

* Maa Shayari In Hindi *

ये कहकर मंदिर से फल की पोटली चुरा ली माँ ने,
तुम्हे खिलाने वाले तो और बहुत आ जायगे गोपाल,
मगर मैने ये चोरी का पाप ना किया,
तो भूख से मर जायेगा मेरा लाल.

____________________


दोस्तो, हमारी वेबसाइट के सभी नये वीडियो देखने के लिये हमारे YouTube चेनल पर जाये।

ओर चेन्नल को Subscribe करे।


● यह भी पढें :-

• Top Mother’s Day Shayari | Mother’s Day Shayari & Status

• Top+100 Father’s Day Messages & Shayari

• बाल दिवस शायरी | Children’s Day Shayari in Hindi 2018

• Best Dua Shayari | New Dua Shayari | Latest Dua Shayari In Hindi